इस शख्स के कारण पूरा गांव बन गया करोड़पति, जानकर हो जायंगे हैरान

स्पेन का एक छोटा सा गांव जिसका नाम सिरिजेल्स डेल कोन्डांडो है पूरी दुनिया की मीडिया में छाया हुआ है। उसकी वजह ये है की ये गांव रातों रात करोड़पति बन गया। इस गांव में 80 परिवार रहते है। इन गांव वालों की कोई लोटरी नही लगी है, लेकिन इस गांव के ही एक अरबपति एंटोनिनो फेर्नाडीज़ जो की कोरोना बियर के मालिक है, ने अपनी वसीयत में पूरी धन-दौलत इन गांव वालों के नाम कर दी।

1_1480142

एंटोनिनो का जन्म 1917 में सिरिजेल्स डेल कोन्डांडो गांव हुआ था। उस वक़्त एंटोनिनो का परिवार बेहद गरीब था। इस कारण से उन्हें अपनी पढाई भी बीच में ही छोड़नी पड़ी थी। शादी के बाद एंटोनिनो मक्सिको में रहने लगे। वहां उनकी पत्नी के चाचा की शराब बनाने की कंपनी थी, एंटोनिनो वहां मजदूरी करने लगे। उनके अच्छे काम को देखकर कंपनी में उन्हें प्रमोशन मिलता गया और 1971 में वे कंपनी के CEO बने। CEO बनने के बाद एंटोनिनो ने कोरोना बियर बनाई जो पुरे मक्सिको में बहुत फेमस हुई। मक्सिको ही नही बल्कि इस बियर की मांग पूरी दुनिया में भी होने लगी। कोरोना बियर अकेले अमेरिका में 4700 करोड़ रूपए की बियर भेजी जाती है।

3_148014

कैसे बने गांव वाले करोड़पति…

99 वर्ष के एंटोनिनो की अगस्त 2016 में मौत हो गई। बाद में जब उनकी वसीयत देखी गई तो उसमे उनकी सम्पति के वारिसों के बारे में पता लगा। जब देखा गया की एंटोनिनो ने 1400 करोड़ रूपए की सम्पति अपने गांव वालों के नाम कर दी है तो हर कोई हैरान रह गया। गांव वाले इस बात पर यकीन नही कर पा रहे थे। गांव के हर शख्स के हिस्से में 17 करोड़ रूपए आए। एंटोनिनो एक अच्छे समाज सेवक भी थे। स्पेन के पिछले राजा ने उनका सम्मान भी किया था। ये गांव अब स्पेन के सबसे आमिर गांव में से है।

4_148014